शिव सेना पार्टी चिह्न की लड़ाई : निर्वाचन आयोग की कार्यवाही के खिलाफ उद्धव गुट पहुंचा सुप्रीम कोर्ट, 1 अगस्त को होगी सुनवाई

हाइलाइट्स

उद्धव ठाकरे गुट ने एकनाथ शिंदे का चुनाव आयोग में चल रहे मामले में सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया है.
उद्धव ठाकरे गुट की ओर से सुप्रीम कोर्ट में कपिल सिब्बल प्रतिनिधित्व कर रहे थे.
सुप्रीम कोर्ट ने 1 अगस्त को सुनवाई की तारीख रखा है.

नई दिल्ली. महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे के नेतृत्व वाले शिवसेना गुट की याचिका पर निर्वाचन आयोग की कार्रवाई के खिलाफ दाखिल की गई उद्धव ठाकरे समूह की याचिका पर उच्चतम न्यायालय एक अगस्त को सुनवाई करने के लिए सहमत हो गया. शिंदे के नेतृत्व वाले गुट ने स्वयं को असली शिवसेना के तौर पर मान्यता दिए जाने का अनुरोध किया है. मंगलवार को प्रधान न्यायाधीश एन.वी. रमण, न्यायमूर्ति कृष्ण मुरारी और न्यायमूर्ति हिमा कोहली की एक पीठ से, उद्वव ठाकरे गुट की ओर से पेश हुए वरिष्ठ अधिवक्ता कपिल सिब्बल ने कहा कि निर्वाचन आयोग के समक्ष चल रही कार्यवाही पर रोक लगाने की जरूरत है, क्योंकि इससे मामले में यहां सुनवाई प्रभावित होगी.

शीर्ष अदालत ने कहा कि वह लंबित याचिकाओं के साथ ही इस याचिका पर एक अगस्त को सुनवाई करेगी. गौरतलब है कि निर्वाचन आयोग ने हाल ही में शिवसेना के दोनों प्रतिद्वंद्वी गुटों को पार्टी और उसके चुनाव चिह्न (धनुष और बाण) पर अपने-अपने दावों के समर्थन में आठ अगस्त तक दस्तावेज जमा करने का निर्देश दिया था.

निर्वाचन आयोग के सूत्रों ने बताया था कि दोनों पक्षों को दस्तावेज जमा करने के लिए कहा गया है, जिसमें पार्टी की विधायी तथा संगठनात्मक शाखा के समर्थन पत्र और प्रतिद्वंद्वी गुटों के लिखित बयान शामिल हैं.

Tags: Eknath Shinde, Shiv Sena news, Uddhav thackeray

Source link

VS NATION
Author: VS NATION