‘कर्तव्यपथ’ पर 26 जनवरी गणतंत्र दिवस परेड 2023 में शास्त्रीय नृत्य कला का प्रदर्शन


दिल्ली, इस बार 26 जनवरी को गणतंत्र दिवस परेड 2023 में ‘कर्तव्यपथ’ पर प्रदर्शन करने के लिए देश भर से 5000 से अधिक नर्तकियों में से पुणे में मनीषा साठे द्वारा संचालित  मनीषा नृत्यालय (कथक), अमृता परांजपे की ‘अभिव्यक्ति स्कूल’ और तेजस्विनी साठे की नृत्य संस्था ‘तंज’ द्वारा प्रशिक्षित कलाकारों को चुना गया है।

यहां हम आप को बता दे कि ऐतिहासिक राजपथ का नाम 8 सितंबर से कर्तव्य पथ हो गया है. जानकारी के लिए आपको बता दें कि साल 1911 में लगे ऐतिहासिक ‘दिल्ली दरबार’ के बाद ब्रिटेन के राजा जॉर्ज पंचम के सम्मान में तीन किलोमीटर लंबी इस सड़क को ‘किंग्सवे’ नाम दिया गया था. आजादी के बाद उसे राजपथ नाम दिया गया. लेकिन अब इसका नाम बदलकर कर्तव्य पथ कर दिया गया है।
‘राजपथ’ का नाम परिवर्तन किए जाने के बाद यह पहली गणतंत्र दिवस परेड होगी, जिसमे भाग लेने वाले ये 3 समूह, पुणे के पहले नर्तक समूह होंगे जिन्हें प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी की उपस्थिति में ‘कर्तव्यपथ’ पर प्रदर्शन करने का अवसर मिलेगा। पुणे (महाराष्ट्र) में क्रियाशील ये समूहों ने यहां तक पहुंचने के लिए कई राउंड क्लियर किए। पूरे भारत में एक वीडियो राउंड, मुंबई राउंड, 7 जोनल राउंड आयोजित किए गए, जिनमें से उन्हें नागपुर में आयोजित एक और फिर दिल्ली में आयोजित ग्रैंड फिनाले से चुना गया। 

यहां हम ये भी बता दे गत वर्ष इस परेड में पालघर वसई के कोली डांस करने वाले विशाल ग्रुप को भी ये अवसर मिला था। पुणे के डांसरों को ‘कर्तव्यपथ’ पर कुछ मिनटों के लिए, उच्च सम्मानित प्रतिनिधियों के सामने अपने शास्त्रीय नृत्य कला को राष्ट्रीय स्तर पर प्रस्तुत करने का गौरव प्राप्त होगा।

VS NATION
Author: VS NATION