पृथ्वीराज मस्के ने की कैश रिसाइकलर मशीन लगाने की मांग


मुंबई: दो हजार के नोटों को जमा करने की मौजूदा चुनौतियों का तत्काल हल निकालने की आवश्यकता को अधिक बढ़ावा देने के लिए कैश रिसाइकलर मशीन (सीआरएम) लगाने की मांग को लेकर अन्याय व भ्रष्टाचार के विरोध में लड़ने वाली सामाजिक संस्था ‘संघर्ष’ के अध्यक्ष पृथ्वीराज मस्के ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और आरबीआई के गवर्नर शशिकांत दास को पत्र लिखा है.
पृथ्वीराज मस्के ने पत्र में लिखा है कि समय के साथ बैंकों और एटीएम में इन पुराने जमा मशीनों को दो हजार के नोट जमा करने के लिए संगठन बदल गया है, जिससे आम नागरिक को नोट जमा करने में काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है. सीआरएम के लग जाने से समय की बचत के साथ साथ वरिष्ठ, अक्षम और समय के पाबंद लोगों को सहूलियत मिलेगी. सीआरएम के लागू किये जाने से बैंकिंग आपरेशन की कुल क्षमता में सुधार होगा. यह देश की जनता के लिए सुलभ और सुविधाजनक बैंकिंग सेवाओं को प्रदान करने के सरकार के समर्पण का प्रतिक होगा.
पृथ्वीराज मस्के ने अपने पत्र में लिखा है कि इन मशीनों को लागू करने के लिए काफी निवेश की आवश्यकता होगी, लेकिन ग्राहक सेवा में वृद्धि, कतारों में कमी और बैंकिंग आपरेशन में बढ़ी हुई कुशलता जैसे लंबे समय के लिए आरंभिक खर्चों से अधिक लाभ होंगे. डिजिटल लेन देन के अपारदर्शिता को बढ़ावा मिलेगा, जो सरकार के कैशलेस अर्थव्यवस्था के लक्ष्य से मेल खाता है.

VS NATION
Author: VS NATION