कलास्पर्श के *युगल गीत* कार्यक्रम में डॉक्टर्स ने गए युगलगीत


डॉक्टरों की कला को बढ़ावा देने के लिए डॉक्टरों द्वारा बनाई गई संस्था *”*कलास्पर्श*”और *”नालासोपारा आयुर्वेद मेडिकल कॉलेज”* के संयुक्त तत्वावधान में दिनांक 26 अगस्त 2023 को नालासोपारा-वसई-विरार क्षेत्र के डॉक्टरों के लिए *युगल गीत* (duet singing)गायन का एक कार्यक्रम आयोजित किया गया था। सबसे गौरवशाली बात तो यह है कि पूरे *मुंबई एमएमआर* के डॉक्टरों ने इसमें उत्साहपूर्वक भाग लिया और अपना सुंदर गायन प्रस्तुत किया,

इसमें डाॅ. ऋजुता ओमप्रकाश दुबे एवं डॉ. प्रेरणा संजय मांजलकर, डाॅ. भाविका अनुज दुबे एवं डाॅ. अनुज ओमप्रकाश दुबे, डाॅ. रवीन्द्र देशपांडेजी एवं डॉ. विद्या सावंत, डाॅ. तबस्सूम आसिफ काझी और डॉ. सोनल शिवाजी शिंदे,
डॉ. सुचित्रा भीमराव पाटिल एवं डाॅ. बेस्टिना डेनी, डॉ. दीपक सीताराम रेवंडकर और डॉ. सुषमा एस. वैद्य, डॉ. हासी सेनगुप्ता चौधरी और डॉ. हरीश पी. बेडेकर, डॉ. श्रीकांत पाटिल और डॉ. उमा श्रीकांत पाटिल,
डॉ. नितिन मोरे और डॉ. शुभांगी नितिन मोरे, डॉ. मयूरेश अविनाश दुबे और डॉ. रुचिता सावंत,
डॉ. सुरेखा नामदेव धनावड़े एवं डाॅ. स्वाति धनराजजी भिंगारे, डॉ.रेणुका सचिन पाटिल और डॉ. प्रियंवदा देशमुख , डॉ. उदय यादवराव मस्के और डॉ. कल्पना वारंग, डॉ. आर टी वाघ साहब और डॉ. युक्ति मेहता, डॉ. अपर्णा निजाई और डॉ. रसिका निजाई द्वारा 15 युगल गीत प्रस्तुत किये गये।
डॉ. जयश्री देशपांडे मॅडम और डॉ. रेणुका पाटिल ने बहुत अच्छी एंकरिंग की और गणमान्य व्यक्तियों द्वारा दीप प्रज्ज्वलन और पूजा के साथ कार्यक्रम शुरू करने के लिए आमंत्रित किया और फिर पूरे कार्यक्रम को बहुत ही कुशल, लयबद्ध और मधुर तरीके से संचालित किया।
संस्था के सचिव डॉ.ओमप्रकाश दुबे ने अपने उद्बोधन में कहा कि *”कलास्पर्श”* के रूप में शुरू की गई यह पहल बहुत लोकप्रिय हो गई है और इस संबंध में उन्होंने संबंधितों को अपने प्रयास जारी रखने का सुझाव दिया और सभी सदस्यों को बधाई दी। कार्यक्रम में अपना गायन प्रस्तुत करने के लिए उपस्थित सभी डॉक्टर्स एवं दर्शकों को शुभकामनाएँ दी l
इसके बाद जब कार्यक्रम चल रहा था तो वैद्यकीय, शैक्षणिक एवं सामाजिक क्षेत्र में बड़ी सफलता की ओर अग्रसर *”कलास्पर्श”* की अध्यक्षा डाॅ. ऋजुता दुबे इनको “कलास्पर्श” सदस्यों द्वारा सम्मानित किया गया l
डॉ. सुरेखा धनावड़े, डॉ. प्रेरणा मांजलकर, डॉ. सरिता पासी, डॉ. अस्मिता बनसोड़, डॉ.ज्योति राठी के सहयोग एवं महाविद्यालय की प्राचार्या डॉ.हेमलता शेंडे इनके मार्गदर्शन में कार्यक्रम संपन्न हुआ।
“कलास्पर्श” द्वारा आयोजित यह छठा कार्यक्रम है, पहला कार्यक्रम *कवि सम्मेलन*, दूसरा कार्यक्रम *गायन*, तीसरा *मोनो एक्ट* और चौथा वर्षा ऋतु काव्य पर आधारित *”घन निळा”* एवं पांचवां *रंगोली, पेंटिंग एवं वाद्ययंत्र* का कार्यक्रम प्रस्तुत किया गया था l
दर्शकों की लगातार बढ़ती संख्या के साथ यह कार्यक्रम बेहद उत्साहपूर्ण माहौल में संपन्न हुआ।
डॉ. सूरज गायकवाड ने अपने उत्कृष्ट भाषाशैली में धन्यवाद ज्ञापित किया।
पूरे कार्यक्रम का श्रेय डॉ. धनावड़े मॅडम, डॉ. दुबे मॅडम, डाॅ. मांजलकर मॅडम, डाॅ. देशपांडे मॅडम और नालासोपारा आयुर्वेद मेडिकल कॉलेज के सभी उत्साही शिक्षकों को देना उचित होगा।

VS NATION
Author: VS NATION